- Advertisements -spot_img

Friday, January 21, 2022
spot_img

सत्यपाल मलिक के PM मोदी पर विवादित बयान के बाद भी चुप क्यों है भाजपा? एक नहीं कई वजहें

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक अपने बयानों से भाजपा नेतृत्व को लगातार नाराज कर रहे हैं। हालांकि इसके बावजूद भाजपा आलाकमान उन पर कोई भी कार्रवाई करने से बच रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि इसके पीछे उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव हो सकता है। फिलहाल भाजपा चुनाव से पहले किसी भी तरह के जोखिम से बचना चाहती है। ऐसा क्या है जो भाजपा नेताओं ने सत्यपाल मलिक के बयानों पर पलटवार करने से तौबा कर रखी है। जानिए, कारण।

भाजपा अपनी पार्टी के सबसे लोकप्रिय नेता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के विवादित बयानों पर चुप्पी साधे हुए है। सूत्रों के मुताबिक, पार्टी के कई नेता सत्यपाल मलिक से नाराज हैं और उन पर कार्रवाई चाहते हैं। सूत्रों का कहना है कि इसके बावजूद यूपी विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए भाजपा नेता खामोश हैं।  

क्या कहा था मलिक ने
सत्यपाल मलिक ने कुछ दिन पहले कहा था, “मैं जब किसानों के मामले में प्रधानमंत्री जी से मिला, तो मेरी पांच मिनट में ही उनसे लड़ाई हो गई। वो बहुत घमंड में थे। जब मैंने उनसे कहा, हमारे 500 लोग मर गए, तुम तो कुतिया मरती है तो चिट्ठी भेजते हो। तो उन्होंने कहा, मेरे लिए मरे हैं? मैंने कहा आपके लिए ही तो मरे थे, क्योंकि आप उनकी वजह से राजा बने हुए हो, इसको लेकर मेरा उनसे झगड़ा हो गया।”

जाट समुदाय से हैं मलिक
सत्यपाल मलिक जाट समुदाय से आते हैं और पश्चिमी यूपी क्षेत्र से ताल्लुक रखते हैं। हाल ही में तीनों कृषि कानूनों पर किसानों ने दिल्ली और यूपी में केंद्र सरकार के खिलाफ बड़ा आंदोलन किया था। जिस पर मोदी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए तीनों कानून वापस ले लिए। सूत्रों का कहना है कि यूपी चुनाव के मद्देनजर भी आंदोलन खत्म कराना सरकार की बड़ी योजना का हिस्सा है। इसके अलावा सत्यपाल मलिक पर कार्रवाई करके सरकार जाट समुदाय को नाराज नहीं करना चाहती।

सूत्रों का यह भी कहना है कि मलिक को हटाने से कोई मकसद पूरा नहीं होगाय़ भाजपा के एक नेता के अनुसार, उनके पास राज्यपाल के रूप में कुछ और महीने बचे हैं और उनकी उपेक्षा करना और उन पर कोई ध्यान नहीं देना बेहतर है, क्योंकि वह यही लक्ष्य रखते हैं। सूत्रों की मानें तो भाजपा नेतृत्व ने पीलीभीत से पार्टी सांसद वरुण गांधी के साथ भी इसी तरह की रणनीति अपनाई है, जो पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर पोस्ट के साथ भाजपा पर निशाना साध रहे थे।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img