- Advertisements -spot_img

Wednesday, June 29, 2022
spot_img

यूक्रेन में बंकर में छुपकर एना करती थी दिल्ली में बैठे अभिनव से बाद, अब दिल्ली में होगी दोनों की शादी

30 साल की यूक्रेनी एना होरोदेत्स्का मार्च में दिल्ली हाईकोर्ट के वकील अनुभव भसीन के साथ अपनी शादी का इंतजार कर रही थी। इस जोड़े ने दक्षिण दिल्ली में एक साधारण समारोह में शादी का फैसला किया। इसके बाद रूस ने यूक्रेन पर आक्रमण कर दिया। आक्रमण शुरू होने के तुरंत बाद यूक्रेन की राजधानी कीव में एक बंकर में छुपकर एना ने अनुभव से फोन पर बात की। अनुभव ने उसे वहीं रहने के लिए कहा। लेकिन उसने फैसला किया कि उसे किसी न किसी तरह से भारत पहुंचना है।

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एना ने कहा, “आक्रमण शुरू होने के बाद से हमारे बीच तीन झगड़े हुए। पहला जब उसने मुझे कीव छोड़ने के लिए कहा और मैंने उससे कहा कि रूस आक्रमण नहीं करेगा। दूसरा तब जब उसने मुझसे ट्रेन में चढ़ने के लिए भीख मांगी लेकिन मैं नहीं चाहती थी। और तीसरी बार जब हम लड़े तो उसने मुझे बंकर में रहने के लिए कहा। मैंने उससे कहा तुम वहीं रुको मैं भारत आ रही हूं।” आपको बता दें कि एना 17 मार्च को भारत आ सकी।

दिल्ली हवाई अड्डे पर उनका आगमन सामान्य नहीं था। ढोल-नगारे के साथ उनका स्वागत किया गया गया। अनुभव ने घुटने के बल बैठकर सगाई की अंगूठी निकाली और पूछा- क्या तुम मुझसे शादी करोगी?

संबंधित खबरें

एना ने कहा, “मैं यात्रा से बहुत थक गई थी। अनुभव ने जो किया मुझे उसकी उम्मीद नहीं थी। मैने हां कह दिया। मैं उसके साथ रहने के लिए युद्ध से भाग गई। मैं उनकी मां से मिली, जिन्होंने फूलों से मेरा स्वागत किया। यह सब बहुत अच्छा था।”

आपको बता दें कि यह जोड़ी पहली बार 2019 में मिली थी जब कीव में एक निजी कंपनी में काम करने वाले एना छुट्टी मनाने भारत आई थी। उन्होंने नंबरों का आदान-प्रदान किया और दोस्त बन गए। व्हाट्सएप पर महीनों तक बातचीत के बाद वह अगले साल रोड ट्रिप के लिए राजस्थान लौटी। उस समय लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई थी। अनुभवन ने कहा, “मैंने लॉकडाउन के दौरान उसकी मदद की। हम करीब आते गए। ”

फरवरी 2021 में दुबई में दोनों तीसरी बार मिले। इसके बाद उसी साल के अंत में दोनों भारत में चौथी बार मिले। अनुभव की मां ने एना से अपने बेटे से शादी करने के लिए कहा। अनुभव ने कहा, “मेरी मां ने मेरी ओर से प्रस्ताव रखा। हमने स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत शादी करने का फैसला किया। युद्ध शुरू होने पर इसके लिए दस्तावेज तैयार कर रहे थे।

एना कपड़े बदलकर कीव भाग गई। वह अपने साथ एक कॉफी मशीन भी ले गई, जिसे उसकी दादी ने शादी के तोहफे के रूप में दिया था। अनुभव ने कहा, “मैंने उससे कहा क्या तुम पागल हो। वहीं युद्ध के हालात हैं और तुम एक कॉफी मशीन ले जा रही हो। उसने कहा कि यह हमारी शादी का तोहफा है और वह इसे नहीं छोड़ेगी।”

अपनी मां के साथ लविवि पहुंचने के बाद एना पोलिश सीमा के लिए रवाना हो गई। पोलैंड में दो सप्ताह के प्रवास के बाद उन्हें दो साल का भारतीय वीजा मिला। उसकी मां नॉर्वे के लिए रवाना हो गई और अपने पति के साथ रहने के लिए मैक्सिको जा रही है। 

एना अब यूक्रेन में युद्ध समाप्त होने का इंतजार कर रही है। उसके पास बाओ नाम का एक कुत्ता है जिसे वह चर्कासी क्षेत्र के काम्यंका गांव में अपनी दादी के पास छोड़ दी। दोनों की 27 अप्रैल को शादी करने की योजना है। एना ने कहा, “युद्ध समाप्त होने पर मैं कीव वापस जाना चाहती हूं और अपने कुत्ते को वापस लेना चाहती हूं। मैं अपना जीवन भारत में बिताऊंगी।”

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img