- Advertisements -spot_img

Friday, January 21, 2022
spot_img

गोवा में TMC से गठबंधन के ऑफर को कांग्रेस ने ठुकाराया, पार्टी नेता बोले- तृणमूल हमें कमजोर करना चाहती है

गोवा विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने तृणमूल कांग्रेस के ऑफर को ठुकरा दिया है। कांग्रेस पार्टी ने टीएमसी पर कांग्रेस को कमजोर करने की कोशिश करने का आरोप भी लगाया है। दरअसल टीएमसी की नेता दावा किया था कि उनकी पार्टी ने कांग्रेस को गोवा विधानसभा चुनाव में गठबंधन का ऑफर किया था। जिसपर गोवा कांग्रेस के इंचार्ज दिनेश गुंडू राव ने अब अपनी प्रतिक्रिया दी है।

तृणमूल कांग्रेस की गोवा इंचार्ज महुआ मोइत्रा ने कहा था कि 2 हफ्ते पहले टीएमसी ने गोवा में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस को गठबंधन करने का ऑफर दिया है। जिसपर कांग्रेस नेतृत्व ने जवाब देने के लिए कुछ समय मांगा है। महुआ मोइत्रा ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम को लेकर कहा था कि लगता है कि उन्हें इन सब बातों की जानकारी नहीं है।

कांग्रेस का महुआ मोइत्रा को जवाब

इसपर प्रतिक्रिया देते हुए दिनेश गुंडू राव ने ट्वीट कर जवाब दिया और कहा, ‘वो किसके जवाब का इंतजार कर रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि गोवा में बीजेपी को हराने के लिए टीएमसी की सबसे बड़ी रणनीति है कि कांग्रेस को कमजोर किया जाए और गैर-बीजेपी वोटों को विभाजित कर दिया जाए। क्या इस संबंध में पार्टी नेता केसी वेणुगोपाल का ट्वीट काफी नहीं था। मैं सोच रहा हूं कि किसके जवाब का इंतजार महुआ मोइत्रा को है। कौन महुआ मोइत्रा जी की मदद करेगा।’

इधर टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने कांग्रेस नेता के इस ट्वीट पर सीधे तौर से कोई प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया। लेकिन उन्होंने इतना जरूर कहा कि वो अब आगे कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ ट्विटर वॉर में उलझना नहीं चाहती हैं। 

केसी वेणुगापोल ने कही थी यह बात

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस नेता केसी वेणुगाोपाल ने 10 जनवरी को कहा था कि तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। वेणुगोपाल ने कहा था कि राहुल गांधी द्वारा एक बैठक किए जाने के बाद यह अफवाह उड़ रही थी कि टीएमसी के साथ गठबंधन हो सकता है लेकिन यह बिल्कुल आधारहीन बात है। मैं स्पष्ट करता हूं कि कांग्रेस को पूरा विश्वास है कि हम (कांग्रेस) जल्द ही गोवा को विकास के मार्ग पर फिर से लाएगी।

बता दें कि तृणमूल कांग्रेस गोवा में बीजेपी को हराने के लिए कई बार ‘सेक्युलर अलायंस’ की बात कर चुकी है। लेकिन कांग्रेस ने यहां अकेले ही मैदान में उतरने का फैसला किया है।
 

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img