- Advertisements -spot_img

Saturday, January 22, 2022
spot_img

No Lockdown In Delhi : डीडीएमए का दिल्ली में लॉकडाउन से इनकार, कुछ और प्रतिबंध बढ़ाए जाने की संभावना

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने सोमवार को दिल्ली में लॉकडाउन नहीं लगाने का फैसला किया, लेकिन लोगों को नुकसान पहुंचाए बिना कुछ अतिरिक्त प्रतिबंध लगाए जाएंगे। सूत्रों के अनुसार, रेस्तरां में डाइन-इन की सुविधा प्रतिबंधित होने की संभावना है, लेकिन टेकअवे की अनुमति होगी। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने अध्यक्षता में हुई डीडीएमए की बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, स्वास्थय मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ ही शीर्ष अधिकारी और विशेषज्ञ शामिल हुए।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने एचटी को बताया कि डीडीएमए की बैठक में मौजूद सभी इस बात से सहमत थे कि बढ़ता संक्रमण, अस्पताल में भर्ती होने और मौतों के रुझान चिंताजनक थे। इन प्रवृत्तियों को कम करने के लिए लोगों को नुकसान पहुंचाए बिना और प्रतिबंध लगाए जाने की संभावना है। कोई लॉकडाउन नहीं किया जाएगा।

दिल्ली में कोरोना का कोहराम, 1000 से ज्यादा पुलिसकर्मी हुए संक्रमित 

डीडीएमए ने मौजूदा कोविड-19 स्थिति की समीक्षा के दौरान विशेषज्ञों के साथ व्यापक चर्चा की। डीडीएमए ने निष्कर्ष निकाला कि वर्तमान परिदृश्य में कुछ अतिरिक्त प्रतिबंध आवश्यक हैं और दिल्ली को लॉकडाउन की आवश्यकता नहीं है।

राजधानी दैनिक कोविड मामलों की उच्च संख्या बेकाबू ढंग से बढ़ रही है। दिल्ली में रविवार को कोरोना के 22,751 मामले दर्ज किए गए, जिसमें पॉजिटिविटी रेट 23.53% था। दिल्ली में रविवार को 17 मौतें भी हुईं, जो पिछले साल 16 जून के बाद से एक दिन में सबसे अधिक मौतें हैं। 28 दिसंबर को दिल्ली की कोविड पॉजिटिविटी रेट 1% से कम था। दिल्ली की टेस्ट पॉजिटिविटी रेट पिछले साल 9 मई के बाद से सबसे अधिक है, जब आंकड़ा 21.67% था।

हालांकि, फिलहाल अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बहुत कम है और रिकवरी बहुत तेज है। रविवार को एक ही दिन में 10,000 से अधिक लोग कोविड से ठीक हो गए।

पिछली कोविड लहर के दौरान, 7 मई, 2021 को एक दिन में 20,000 मामले दर्ज किए गए थे, लेकिन 341 मौतें हुई थीं और अस्पतालों में 20,000 से अधिक मरीज भर्ती थे। दिल्ली में 8 जनवरी को 20,000 मामले दर्ज किए गए, लेकिन केवल सात मौतें हुईं और 1,500 बेड्स पर मरीज भर्ती थे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को एक ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अगर हर कोई मास्क पहनता है तो लॉकडाउन की कोई जरूरत नहीं होगी। हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते हैं और न ही हमारी ऐसा करने की योजना है। हम चाहते हैं कि संक्रमण कम से कम फैले। हम किसी की आजीविका में बाधा नहीं डालना चाहते।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img