- Advertisements -spot_img

Thursday, January 27, 2022
spot_img

हम किसी से कम नहीं! यूपी चुनाव में हार-जीत तय करती हैं महिलाएं, BJP को भी साइलेंट वोटर पर पूरा भरोसा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक पार्टियों ने अपने पत्ते खोलने शुरू कर दिए हैं। कांग्रेस महिलाओं को केंद्र में रखकर चुनाव मैदान में उतरी है, तो भाजपा को भी साइलेंट वोटर पर पूरा भरोसा है। इन दलों की तरह सपा, बसपा भी आधी आबादी का भरोसा जीतने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही है।

कांग्रेस ने 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देने का ऐलान किया है। पार्टी की करीब 160 प्रत्याशी महिलाएं होंगी। ऐसे में यह सवाल लाजिमी है कि क्या महिलाएं किसी दल को चुनाव जीता सकती है। यूपी विधानसभा चुनाव के पिछले तीन चुनावों के आंकड़े बताते हैं कि जिस पार्टी को महिलाओं का समर्थन मिला, वह सत्ता तक पहुंची।

इसके उलट चुनाव में महिला उम्मीदवारों की जीत का प्रतिशत बहुत अच्छा नहीं रहा है। वर्ष 2017 चुनाव में 151 महिला उम्मीदवार चुनाव लड़ी थी, पर 40 महिलाएं ही जीत पाई। 2012 में प्रमुख दलों की 153 महिला उम्मीदवारों में सिर्फ 35 जीतकर विधानसभा पहुंची थी। यानि महिलाओं की जीत का प्रतिशत कम है।

उम्मीदवार के तौर पर महिलाओं का चुनाव जीतने का औसत कम हो, पर आधी आबादी चुनाव जीता सकती है। सीएसडीएस के आंकडो के मुताबिक 2007 में बसपा को महिलाओं के सबसे ज्यादा 32 फीसदी वोट मिले थे, तो बसपा सुप्रीमों मायावती सत्ता में पहुंची थी। इसके बाद 2012 के चुनाव में महिलाओं ने सपा को सबसे ज्यादा 31 प्रतिशत वोट मिले। 2017 मे महिलाओं के रिकॉर्ड 41 फीसदी वोट हासिल कर भाजपा सत्ता की दहलीज तक पहुंची थी।

विधानसभा चुनाव में महिलाओं के मतदान प्रतिशत भी बढ़ा है। वर्ष 2007 के चुनाव तक महिला का वोट प्रतिशत पुरुषों से कम था। इस चुनाव में पुरुष मतदाताओं का वोट प्रतिशत 49.31 और महिलाओं ने 41.92 रहा। पर 2012 के चुनाव में महिलाओं का वोट प्रतिशत बढ़ा। चुनाव में 60.28 फीसदी महिलाओं ने मतदान किया। जबकि पुरुष मतदाताओं के वोट का प्रतिशत 58.68 प्रतिशत था।

वोटिंग में आगे रहीं महिला
पिछले विधानसभा चुनाव में भी वोट देने के मामले में महिलाएं पुरुषों से आगे रही। वर्ष 2017 में 63.31 महिलाएं और 59.15 प्रतिशत महिलाओं ने वोट किया। 2019 के लोकसभा चुनाव में पुरुषों के मुकाबले महिलाओ का मतदान प्रतिशत ज्यादा था। पुरुषों ने 58.52 फीसदी वोट दिया था, जबकि महिलाओं का मतदान प्रतिशत करीब 60 फीसदी था।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img