- Advertisements -spot_img

Sunday, November 27, 2022
spot_img

गहलोत की खड़गे और सोनिया गांधी के साथ की तस्वीर ने बढ़ाई पायलट की बैचेनी, अटकलों पर लगा विराम

राजस्थान में पायलट कैंप भले ही सीएम गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हो लेकिन गांधी परिवार का गहलोत पर भरोसा बरकरार है। कांग्रेस के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के पास बैठीं सोनिया गांधी और सीएम गहलोत की इस फोटो के अलग-अलग अर्थ निकाले जा रहे हैं। गहलोत समर्थक इसे आलाकमान का गहलोत को आशीर्वाद मान रहे हैं। जबकि पायलट समर्थक चुपी साधे हुए है। सीएम गहलोत आज दिल्ली में इंदिरा गांधी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। सीएम गहलोत का अग्रिम पंक्ति में सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे संग बैठे हुए है। इस तस्वीर से पायलट कैंप की बैचेनी बढ़ सकती है। सीएम गहलोत ने ट्वीट किया- यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, AICC कोषाध्यक्ष पवन बंसल एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के साथ इन्दिरा गांधी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए।

पायलट कैंप की दबाव की रणनीति बेअसर

बता दें पायलट कैंप के नेताओं ने नेतृत्व परिवर्तन की मांग कर रखी है। पायलट कैंप के नेता कांग्रेस आलाकमान पर दबाव की रणनीति बनाने के तहत इस्तीफा देने का सहारा ले रहे हैं। लेकिन इन सब के बीच सीएम गहलोत का आज का दिल्ली दौरा गहलोत कैंप के नेताओं के लिए राहत भरा मान जा सकता है। गहलोत समर्थक प्रचारित कर रहे हैं कि कुर्सी का संकट खत्म हो गया है। वहीं पायलट गुट का दावा है कि तस्वीरों से खुद को सुरक्षित समझने की गलती भारी पड़ सकती है। सोशल मीडिया पर ये तस्वीर सबसे ज्यादा वायरल हो रही है।

पायलट कैंप को दिया सियासी मैसेज

राजस्थान में सीएम की कुर्सी पर खतरा खत्म होने के दावे किये जा रहे हैं। गहलोत के वो मंत्री भी अब पूरे दम से इस बात को कह रहे हैं जिन पर पार्टी के अनुशासन का डंडा चल चुका है। बता दें पार्टी प्रदेश प्रभारी अजय माकन के इस्तीफे को भी कांग्रेस आलाकमान पर दबाव के तौर पर देखा जा रहा था। लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरदारशहर उपचुनाव में माकन को स्टार प्रचारकर बनाकर पायलट कैंप को सियासी मैसेज भी दे दिया है। तमाम कयासों के बीच सीएम अशोक गहलोत फिलहाल पायलट कैंप पर भारी पड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं। बता दें कारण बताओ नोटिस पाने वाले मंत्री शांति धारीवाल तो यहां तक कह चुके हैं कि सीएम गहलोत सीएम के तौर पर पांच साल का कार्यकाल पूरा करेंगे। लेकिन इस तस्वीर से पायलट कैंप में खलबली मची हुई है। गहलोत के जाने की भविष्यवाणी का काउंटडाउन करने वाले नेताओं के सुर बदले बदले नजर आ रहे हैं। गहलोत की मुस्कुराहट के जादू से पायलट कैंप के नेताओं की सांसें ऊपर नीचे जरूर हो रही होगी। 

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img