- Advertisements -spot_img

Sunday, November 27, 2022
spot_img

Video कानपुर का रोशन नाइजीरियन नेवी के कब्जे में, पीएम से लगाई गुहार,रोशन का फोन बंद होने से परिजन बेहाल

जिस बात से वो खौफ खा रहा था, आखिर वही हुआ। पापुआ न्यू गिनी की नेवी ने पेनाल्टी वसूलने के बावजूद नार्वे की शिप कंपनी के बंधक बनाए गए 26 सदस्यों को नाइजीरियन नेवी के हवाले कर दिया। उनमें से एक कानपुर का रोशन अरोड़ा भी है, जिसने रो-रोकर अपना ऑडियो दादानगर लेबर कॉलोनी स्थित अपने परिवार को भेजा तो कोहराम मच गया। रोशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री जयशंकर को वीडियो भेजकर मदद मांगी है। वहीं, सोमवार-मंगलवार मध्य रात्रि तीन बजे तक रोशन की परिजनों से बातचीत हुई, लेकिन सुबह से फोन बंद होने पर परिजन चिंतित हो गए हैं। 

आखिर में फफकते हुए रोशन ने बताया.. खत्म है अब सब…
क्रूड ऑयल की चोरी के आरोप में पापुआ न्यू गिनी की नेवी ने तीन महीने से जहाज सहित 26 क्रू मेंबरों को बंधक बना रखा था, जिसमें 16 भारतीय हैं। इन्हीं में एक है कानपुर का लाल रोशन अरोड़ा। सोमवार देर रात आए इसके दो ऑडियो से मां-बाप और बहन का कलेजा फट पड़ा। ऑडियो में रोशन कह रहा है…गिनी के कर्नल के ऑर्डर आए हैं कि अपने दो बंदे हमारी नेवी शिप में लेकर आओ और नाइजीरियन वाटर में चलो। कर्नल कह रहा है कि दो लोगों को नाइजीरियन नेवी के पास ले चलेंगे ताकि बाकी भाग न सकें। फिर बोला, तीन-चार घंटे में यहां से नाइजीरिया के लिए निकल जाएंगे क्योंकि एंकर उठाने में ही इतना समय लग जाएगा। आखिर में फफकते हुए रोशन ने बताया.. खत्म है अब सब… हो गया बहुत..अब पता नहीं क्या होगा…। दूसरे ऑडियो में भी आवाज से रोशन का खौफ झलक रहा है। इसमें धीरे-धीरे वह कह रहा है, सनी भइया वीडियो भेजना अब संभव नहीं है क्योंकि मेरे बगल में दो नेवी वाले खड़े हैं। उनके सामने वीडियो भेजना असंभव है। पूरी शिप को नेवी ने कब्जे में ले लिया है। अब नहीं हो सकता वीडियो भेजने का काम…नाइजीरियन आर्मी वाले चीफ ऑफिसर को पहले ही वारशिप में ले गए हैं। हम लोग भी जल्दी यहां से निकलकर नाइजीरियन नेवी के कब्जे में आ जाएंगे।
सुबह से परिजनों की रोशन से नहीं हुई बात
मंगलवार-बुधवार की मध्य रात्रि 3:30 बजे तक परिजनों से रोशन की बात हुई। जहाज के इंजन में गड़बड़ी आ गई है और उसे ठीक करने के लिए नाइजीरिया नेवी से मोहलत मांगी है। पूरे जहाज को नाइजीरियन नेवी ने अपने कब्जे में ले लिया है। परिजनों की उसके बाद से सात घंटे से रोशन संपर्क नहीं हो पाया है। मोबाइल फोन स्विच ऑफ है। परिजन घबराए हुए हैं। 

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img