- Advertisements -spot_img

Monday, January 24, 2022
spot_img

UP elections: 25 हजार केंद्रीय बलों को चुनाव ड्यूटी के लिए भेजा जाएगा यूपी, इन मतदान केंद्रों पर सेटेलाइट फोन का होगा इस्तेमाल

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा है कि राज्य में 29138 मतदेय स्थल संवेदनशील हैं। प्रदेश में शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए 225 कंपनी अर्द्धसैनिल बलों को तैनात किया जाएगा। केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के लगभग 25,000 कर्मियों को तैनात करने का आदेश दिया है। 150 कंपनी बल 10 जनवरी से तैनात हो जाएगा। बाकी 75 कंपनी बल 20 जनवरी को प्रदेश में पहुंचेगा।

प्रशांत कुमार रविवार को मतदान के दौरान किए गए सुरक्षा इंतजामों के सिलसिले में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनावों में सुरक्षा के मद्देनज़र 109 ड्रोन, 168 रिवर बोट, 420 पोर्टेबिल सीसीसीटीवी कैमरे, 563स्टिल कैमरे, 492 वीडियो कैमरे व 3573 बाडी वार्न कैमरों का इस्तेमाल किया जाएगा। साथ ही सी-प्लान एप के जरिये जनता से त्वरित संवाद किया जाएगा। 

456 मतदान केंद्रों पर सेटेलाइट फोन का इस्तेमाल
प्रशांत कुमार ने बताया कि प्रदेश के 11 जिलों पीलीभीत, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, लखीमपुरखीरी, बहराइच, बलरामपुर, श्रावस्ती, ललितपुर, मेरठ, सोनभद्र व चंदौली में 456 मतदान केंद्रों पर संचार व्यवस्था ठीक न होने के कारण वायरलेस सेट और सेटेलाइन फोन का इस्तेमाल किया जाएगा।

107 अंतरराष्ट्रीय व 469 राज्यीय बैरियर लगे
उन्होंने बताया कि सात जिलों पीलीभीत, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, लखीमपुरखीरी, बहराइच,  बलरामपुर, श्रावस्ती के 14 विधानसभा नेपाल सीमा से सटी हैं। प्रदेश के 30 जिलों की सीमा 9 सीमावर्ती राज्यों से लगी हुई है। इनमें 74 विधानसभा सीटें राज्यों की सीमा से लगी हुई हैं। इनमें सुरक्षा के लिए 107 अंतरराष्ट्रीय व 469 अंतरराज्यीय बैरियर लगाए गए हैं। यह बैरियर दिन रात चेकिंग का काम करेंगे। इनके लिए नोडल अधिकारी बनाए गए हैं।

31 मतदान केंद्रों पर नाव या पीपा पुल से पहुंचेंगे
एडीजी ने बताया कि 10 जिलों बिजनौर, जालौन, लखीमपुरखीरी, देवरिया, बस्ती, बहराइच, बलरामपुर, श्रावस्ती व बलिया में 31 मतदान केंद्रों में नदी के रास्ते से पहुंचा जा सकेगा। इसके लिए नाव व ट्रैक्टर अथवा पीपा पुल की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर की जाएगी।

9 लाख शस्त्र लाइसेंसों की हुई जांच
उन्होंने बताया कि प्रदेश में  9 लाख 4 हजार 921 शस्त्र लाइसेंसों की जांच की गई है। 3 लाख 68 हजार 490 लाइलेंस जमा कराए गए हैं। प्रदेश में 7744 अवैध शस्त्र बरामद किए गए हैं, जबकि 58 अवैध शस्त्र फैक्ट्री आदि को लेकर 5399 केस दर्ज किए गए हैं और 5441 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है।
 

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img