- Advertisements -spot_img

Thursday, January 20, 2022
spot_img

यूपी के बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, अजीत हत्याकाण्ड की जांच एसटीएफ को

एक साल पहले विभूतिखंड में हुये अजीत सिंह हत्याकाण्ड की जांच एसटीएफ को सौंप दी गई है। यह कार्रवाई एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार के आदेश पर की गई है। इस मामले में साजिश रचने के आरोपी बनाये गये पूर्व सांसद धनंजय सिंह की मुश्किले बढ़ गई है। धनंजय सिंह को लेकर कुछ दिन से यह मामला सुर्खियों में है। पिछले साल अगस्त में इस हत्याकाण्ड की विवेचना विभूतिखंड कोतवाली से गाजीपुर पुलिस को स्थानान्तरित कर दी गई थी। 

मऊ के हिस्ट्रीशीटर अजीत सिंह की हत्या छह जनवरी, 2021 को कठौता चौराहे के पास उस समय कर दी गई थी जब वह अपने साथी मोहर सिंह के साथ जा रहे थे। उन पर कई राउण्ड फायरिंग की गई थी। इसमें मोहर व राहगीर आकाश भी घायल हुये थे। मोहर ने एफआईआर करायी थी कि यह हत्या जेल में बंद अखण्ड सिंह व कुंटू सिंह ने सुपारी देकर करायी है। शूटरों में गिरधारी विश्वकर्मा उर्फ डॉक्टर भी था। इसके बाद इसमें संदीप सिंह बाबा, अंकुर सिंह, मुस्तफा, प्रिंस, बंधन, रेहान  सिंह और रेहान भी गिरफ्तार किये गये। गिरधारी गिरफ्तारी के बाद रिमाण्ड अवधि में पुलिस अभिरक्षा से भागते समय मुठभेड़ में मारा गया था। पुलिस ने जेल में बंद सभी आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी थी। पुलिस ने विवेचना में धनंजय सिंह को भी साजिश रचने का आरोपी बनाया। इसके बाद ही धनंजय सिंह पर 25 हजार रुपये इनाम भी घोषित हुआ था। 

अगस्त में विवेचना गाजीपुर पुलिस को मिली थी
पिछले साल अगस्त में इस हत्याकाण्ड की विवेचना गाजीपुर थाने को स्थानान्तिरत कर दी गई। तब से गाजीपुर थाने में तीन विवेचक बदल चुके हैं। इस मामले में धनंजय सिंह की गिरफ्तारी न होने और उनके खुलेआम घूमने को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की चर्चायें हो रही थी। इसी बीच शुक्रवार को इस हत्याकाण्ड की जांच एसटीएफ को दे दी गई है। शुक्रवार शाम को एसटीएफ को यह आदेश भी पहुंच गया है। 

 

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
24FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img