- Advertisements -spot_img

Sunday, November 27, 2022
spot_img

बांके बिहारी मंदिर में श्रद्धालुओं की उमड़ी भारी भीड़, चार महिला श्रद्धालु बेहोश

बांकेबिहारी मंदिर में रविवार को एक बार फिर भक्तों का जनसैलाब उमड़ गया। ऐसे में भक्तों को अपने आराध्य के दर्शनों के लिए घंटों लाइन में इंतजार करना पड़ा। भारी भीड़ होने के कारण चार श्रद्धालु बेहोश हो गये। वहीं काफी भक्तों को भीड़ के चलते अपने आराध्य के दर्शनों से वंचित होना पड़ा।

बता दें कि भीड़ का ऐसा नजारा दिखना केवल नया नहीं है। आए दिन श्रद्धालुओं की संख्या में इजाफा होने के कारण प्रमुख पर्व त्योहारों के साथ ही शनिवार और रविवार को इसी कदर भक्तों की भीड़ उमड़ती है। जिसके चलते जिला प्रशासन एवं मंदिर प्रबंधन श्रद्धालुओं की सुविधा एवं सुरक्षा की दृष्टि से लगातार प्रयास कर रहा है। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मंगला आरती के दौरान 2 श्रद्धालुओं की मौत की घटना के बाद से शासन भी यहां व्यवस्था के प्रति गंभीर दिख रहा है। शासन के निर्देश के बाद मंदिर में व्यवस्था सुधार के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार नए नए प्रयोग किए जा रहे हैं। लेकिन अभी तक पूरी तरह से सफलता नहीं मिल पा रही है। 

बांके बिहारी मंदिर में रविवार को उमड़ी भारी श्रद्धालुओं की भीड़ के चलते मंदिर के प्रवेश मार्गों पर ही तीन किशोरियां बेहोश हो गईं। 3 किशोरियों के बेहोश होने से प्रशासन के हाथ- पांव फूल गये। आनन-फानन में  स्थानीय लोगों द्वारा पुलिस की सहायता से तत्काल उन्हें प्राथमिक उपचार दिलाया गया। मंदिर के प्रवेश मार्ग पर रविवार को भारी दबाव में कासगंज की दीक्षा, अनामिका और मानवी बेहोश हो गई। वहीं रेवाड़ी हरियाणा की गुंजन भी बेहोश हो गई। जिन्हें तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया। 

रविवार को भक्तों का अपार जनसैलाब उमड़ने से स्थिति इस कदर हो गई कि प्रशासन एवं मंदिर प्रबंधन द्वारा की गई व्यवस्थाएं धरी की धरी रह गईं। मंदिर से काफी दूर दूर तक भक्तों की लंबी लाइनें लगी रहीं। मंदिर के सभी रास्तों पर श्रद्धालुओं की अपार भीड़ थी, जिससे सभी रास्ते ब्लॉक हो गये थे। जिससे भक्तों को अपने आराध्य के दर्शन करने के लिए घंटों इंतजार के साथ ही भीड़ में फंसे होने के कारण काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वहीं काफी श्रद्धालु ऐसे भी थे जो भीड़ को देख बिना दर्शन करे ही वापस लौटते दिखाई दिए। 

मंदिर में भक्तों की भारी भीड़ उमड़ने की जानकारी लगते ही सीओ सदर प्रवीण मलिक भी मौके पर पहुंच गए। जहां वे कोतवाली प्रभारी सूरज प्रकाश शर्मा एवं पुलिसबल के साथ व्यवस्था में जुट गए। मंदिर के सभी संपर्क मार्गों पर भक्तों को लाइन के साथ ही बेरिकेडिंग पर रोक रोक कर आगे बढ़ाया गया, ताकि मंदिर में व्यवस्था न बिगड़ सके। जबकि एक-दो स्थानों पर पुलिसकर्मियों ने बेरिकेडिंग पर भक्तों को एक साथ जाने की छूट दे दी। जिससे भीड़ का रेला दौड़ता हुआ मंदिर की ओर गया। दिखाई दे रहा है जो हादसे का सबब भी बन सकता था।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img