- Advertisements -spot_img

Tuesday, November 29, 2022
spot_img

जेल से छूटकर आया तो बड़े भाई संग मिली पत्नी, दोनों को साथ देख बौखलाया पति, सौतेले भाई को काट डाला

यूपी के बरेली जिले में एक भाई ने दूसरे भाई को मौत के घाट उतार दिया। मामला भमोरा क्षेत्र के दलीपुर गांव का है। यहां सौतेले भाई ने बड़े भाई ओमप्रकाश (45) की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। वहीं, अपने बचाव में खुद को भी कुल्हाड़ी मारकर घायल कर लिया। उसे पुलिस ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। आरोपी हत्या के मामले में सजायाफ्ता है और बीस साल की सजा काटकर पांच महीने पहले ही घर लौटा था।

थाना भमोरा के गांव दलीपुर में रहने वाले ओमप्रकाश और धर्मवीर सौतेले भाई हैं। करीब बीस साल पहले धर्मवीर की शादी भगवानदेई के साथ हुई थी। ओमप्रकाश अविवाहित थे। शादी के करीब चार साल बाद धर्मवीर ने लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर गांव के ही सियाराम लोधी की हत्या कर दी। इसमें धर्मवीर को बीस साल की सजा हुई थी। धर्मवीर जेल चला गया तो उसकी पत्नी को ओमप्रकाश ने बतौर पत्नी अपने घर में रख लिया। इस बीच उनके चार बच्चे भी हो गए। पांच माह पहले धर्मवीर सजा काटकर घर लौटा तो ओमप्रकाश और भगवानदेई के रिश्ते की जानकारी हुई थी। इसको लेकर आए दिन दोनों भाइयों में झगड़ा होने लगा। 

रविवार शाम ओमप्रकाश घर में बिस्तर लगा रहे थे और भगवानदेई रसोई में बच्चों को खाना खिला रही थीं। इसी बीच धर्मवीर कुल्हाड़ी लेकर वहां पहुंचा और ओमप्रकाश की गर्दन व सिर में ताबड़तोड़ प्रहार करके हत्या कर दी। शोर होने पर परिवार के लोगों ने धर्मवीर को पकड़ा तो उसने सिर में कुल्हाड़ी मारकर खुद को भी घायल कर लिया। सूचना पर एसओ भमोरा दानवीर सिंह मौके पर पहुंचे। घायल धर्मवीर को उपचार के लिए जिला अस्पताल भिजवाया और ओमप्रकाश का शव पोस्टमार्टम को भेज दिया।

पत्नी को लेकर पांच महीने से हो रहा था झगड़ा

करीब पांच महीने पहले धर्मवीर हत्या की सजा काटकर घर लौटा था और तब से ही पत्नी को लेकर सौतेले बड़े भाई ओमप्रकाश से झगड़ा कर रहा था। इसको लेकर ही रविवार शाम उसने ओमप्रकाश की हत्या कर दी। सूचना पर एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल ने भी मौका मुआयना किया। परिजन के मुताबिक धर्मवीर घर में पहली मंजिल पर बने कमरे में रहता था और ओमप्रकाश नीचे रहते थे। सप्ताह भर पहले धर्मवीर ने भगवानदेई से भी झगड़ा किया था। इसके बाद नाराज होकर वह मजदूरी करने बरेली चला गया। रविवार शाम वह अचानक ही कुल्हाड़ी लेकर घर पहुंच गया और ओमप्रकाश पर हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img