- Advertisements -spot_img

Sunday, November 27, 2022
spot_img

आयुष एडमिशन घोटाला मामले में एसटीएफ की धरपकड़ शुरू, पूर्व आयुर्वेद निदेशक समेत 12 लोग गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने गुरुवार को आयुष कॉलेजों में 2021 में दाखिले में कथित अनियमितता के मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार किया।
गिरफ्तार किए गए लोगों में पूर्वआयुर्वेद निदेशक प्रोफेसर एसएन सिंह और 2021 में आयुष कॉलेजों के लिए काउंसलिंग कराने वाली एजेंसी के प्रतिनिधि कुलदीप सिंह शामिल हैं। आरोप है कि कुलदीप ने उस एजेंसी का प्रतिनिधित्व किया जिसने NEET-2021 रिजल्ट के बाद काउंसलिंग आयोजित की थी। चार नवंबर को प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से एसटीएफ कुलदीप की तलाश में थी।

एसटीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी इस बात की पुष्टि की है कि आयुर्वेद विभाग के पूर्व निदेशक एसएन सिंह और कुलदीप समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गौरतलब है कि होम्योपैथी, आयुर्वेद और यूनानी कॉलेजों में 7338 सीटों पर चयन के लिए 2021 में उम्मीदवारों की काउंसलिंग की गई थी। आयुष के तहत सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में कुल 6797 सीटें आवंटित की गई थी। इनमें से कुल 891 आवंटनों को संदिग्ध के रूप में चिन्हित किया गया है। इन 891 नामों में नौ ऐसे नाम भी हैं जिन्होंने कभी नीट की परीक्षा ही नहीं लेकिन कॉलेजों में उन्हें सीट मिल गई। 

आयुर्वेद निदेशालय ने 2021 बैच के सभी 891 छात्रों को  निलंबित कर दिया है और अगले साल जून में आयुष यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित होने वाली परीक्षा में बैठने पर भी रोक लगा दी है। अब तक जिन आयुष महाविद्यालयों में निलंबित छात्रों ने प्रवेश लिया था, उनके प्रिंसिपल से पूछताछ की जा चुकी है। कई छात्रों ने यह भी दावा किया कि उनका प्रवेश धोखाधड़ी नहीं था और उन्होंने अनुरोध किया कि उन्हें कक्षाएं जारी रखने और परीक्षा देने की अनुमति दी जाए।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img