- Advertisements -spot_img

Sunday, November 27, 2022
spot_img

आफत! खेतों में कीट होना जरूरी; इस नवंबर में घट गए कीट, फसलों को होगा नुकसान

दीपावली के करीब अक्सर जलते हुए हैलोजन,बल्ब, ट्यूबलाइट के इर्द गिर्द कीट-पतंगों के झुंड बढ़ जाते हैं। यह बारिश जाने का संकेत भी माना जाता है, लेकिन इस बार नवंबर में यह झुंड नजर नहीं आए। इसका कारण कीटों की संख्या में कमी आना है। इनमें फसलों को फायदा पहुंचाने वाले कीट भी शामिल हैं। इसका अक्टूबर माह में हुई अधिक बारिश माना जा रहा है।

सीएसए के मौसम व कीट वैज्ञानिक कीट पतंगों के बदले व्यवहार और नवंबर माह में इनकी संख्या में आई कमी का अध्ययन कर रहे हैं। दीपावली व उसके बाद देखा गया कि जो कीट रात में प्रकाश के इर्द गिर्द मंडराते थे, वह जमीन से कुछ फीट की ऊंचाई पर माहू की तरह उड़ते दिखे। आंखों में जाने से लोगों को रात में राह चलना भी मुश्किल हो गया। इन सभी की वजह जलवायु परिवर्तन को ठहराया जा रहा है।

संवेदनशील होते हैं छोटे-छोटे कीट छोटे कीट बेहद संवेदनशील होते हैं। इन्हें मौसम की खराबी की भनक पहले लग जाती है और वे अपना भोजन संकट से पहले जुटा लेते हैं। इस बार अक्टूबर माह में बारिश के बाद इनके लिए मौसम प्रतिकूल हो गया। कीट अनेक कारणों से प्रकाश की ओर आकर्षित होते हैं। इस बार इन्हें प्रकाश में यह गंध नहीं मिली। प्रतिकूल मौसम रहने से इनकी बायोलॉजिकल क्लॉक भी प्रभावित हुई है। जलवायु परिवर्तन एक बड़ी वजह है। ऐसे में सीएसए में एक इन्फॉर्मेशन बैंक तैयार जा रहा है ताकि विस्तार से अध्ययन हो सके।

लखनऊ में जज और पत्नी पर दो दर्जन लोगों ने किया हमला, रिवाल्वर-रायफल लूटी

मित्र कीट न होने से फसलें प्रभावित
वैज्ञानिक मानते हैं कि दो तरह के कीट होते हैं। इनमें कुछ मित्र कीट होते हैं जो परागण आदि में मदद करते हैं। इनमें ट्राइकोडर्मा, वास्प, जिओकारिस, नेबिस, मकड़ियां, ओरियस, बैरीक्यूमोन, क्राइसोपर्ला, ततैया, टेट्रास्टिकस आदि शामिल हैं। यह मित्र कीट शत्रु कीटों को भी खा जाते हैं। इससे फसलों का उत्पादन बढ़ जाता है और तमाम बीमारियों से बच जाते हैं।

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Related Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img

Stay Connected

563FansLike
0FollowersFollow
22FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img
- Advertisements -spot_img

Latest Articles

- Advertisements -spot_img
- Advertisements -spot_img